श्री ब्राह्मणी माता-जयपुर
 

राजस्थान की राजधानी जयपुर यह राजा जय सिंह द्वारा स्थापित की गई हैं। वे बढ़ते विदेशी खतरों के कारण शहर की सुरक्षा के लिये चिंतित थे। उन्हें गणित और विज्ञान बहुत पसंद थे इसीलिये उन्होंने शहर को प्राचीन भारतीय वास्तु विज्ञान के अनुसार बनाये जाने का निश्चित किया और बंगाल के एक ब्राह्मण विद्वान विद्याधर भट्टाचार्य को बुलाया। विद्याधरजी ने खगोल विज्ञान पर प्राचीन भारतीय वास्तुकला के आधार पर एक योजना तैयार की।

जयपुर का निर्माण सन् 1727 में वास्तु शास्त्र के सिद्धांत पर शुरू हुआ और प्रमुख महलों, सड़कों और वर्ग को पूरा करने में लगभग 4 साल लग गए। शहर को नौ भागों में विभाजित किया गया था, जिनमें से दो भागों में राज्य भवन और महल शामिल हैं, जबकि शेष सात भागों को जनता को आवंटित किया गया। सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए, सात मजबूत दरवाजों के साथ विशाल किलेबंदी की दीवारें बनाई गईं।

उस समय भारतीय उप महाद्वीप में जयपुर शहर की वास्तुकला बहुत उन्नत और सर्वश्रेष्ठ थी। सन् 1876 ​​में, जब प्रिंस ऑफ वेल्स ने जयपुर का दौरा किया, तो उनके स्वागत के लिए पूरे शहर को गुलाबी रंग में रंगा गया और उसके बाद जयपुर को ‘पिंक सिटी’ का नाम दिया गया। जयपुर सांस्कृतिक और स्थापत्य सुंदरता में समृद्ध है। यहाँ अनेक ऐतिहासिक दार्शनिक पर्यटक आकर्षण हैं, इन से कुछ निम्न हैं:

      • अंबर पैलेस
      • जंतर मंतर
      • जयगढ़ दुर्ग
      • नाहरगढ़ किला
      • हवा महल

सूची बहुत बड़ी है। राजस्थान अपनी समृद्ध संस्कृति, भोजन, हस्त शिल्प और टाई और डाई कपड़ो के लिए प्रसिद्ध है।

पता:

ब्राह्मणी माता मंदिर, शाहपुरा रोड,
त्रिवेणी धाम और त्रिवेणी गौशाला के पास,
जयपुर, राजस्थान 302001

  • जयपुर कैसे पहुंचे:
  • रेल मार्ग :

    जयपुर रेल मार्ग  से  देश के सभी राज्यों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ हैं।

  • सड़क मार्ग:

राज्य सरकार की बसें और निजी बसें आसानी से उपलब्ध हैं।

जयपुर अंतराष्ट्रीय हवाई अड्डा-ब्राह्मणी माता मंदिर, शाहपुरा रोड,
NH248 के माध्यम से 1 घंटे 43 मिनट (79.5 कि.मी.)
इस रास्ते पर टोल हैं।

संदर्भ:

      • Photo: Chirag khandelwal
      • Web search
      • Google Map

अनुरोध:

यदि आपके पास जयपुर की ब्राह्मणी माता या किसी अन्य मंदिर से संबंधित कोई जानकारी या फोटोग्राफ हैं, तो कृपया हमारे साथ साझा करें। हम इस जानकारी को अपडेट करेंगे और क्रेडिट विधिवत आपको दिया जाएगा। इस साइट का उद्देश्य भारत के ब्राह्मणी माता के मंदिरों के बारे में सभी जानकारी एकत्र कर के एक जगह प्रस्तुत करना है। जिससे भारतीय और विदेशी भक्तों को एक जगह ही संपू्र्ण जानकारी प्राप्त हो सके।

 

Temple Location

Mata Ji Mandir Road, Pallu, Rajasthan
Pincode-335524.India

Pallu Devi© 2021. All Rights Reserved.